Aadhaar Card Update : बिना किसी दस्तावेज के बदले आधार कार्ड में मोबाइल नंबर, देखे आसान प्रक्रिया

बिना किसी दस्तावेज के बदले आधार कार्ड में मोबाइल नंबर– पिछले कुछ सालो में आधार कार्ड का इस्तेमाल बहुत होने लगा है ! यह आज के समय में सभी के लिए एक जरूरी दस्तावेज है, जो सरकारी और बहुत सारी दूसरी चीजों के लिए आवश्यक है ! ऐसे में आधार को अपडेट रखना बहुत जरूरी है, आजकल सभी काम ऑनलाइन के जरिये होते है ! जिसमे OTP की जरुरत पड़ती है, जिसके लिए आपका मोबाइल नंबर आधार से लिंक होना चाहिए ! 

ऐसे में अगर आपने मोबाइल नंबर आधार में अपडेट नही करवाया है तो तुरंत ही इसे अपडेट कराए ! क्योंकि हाल ही में UIDAI ने आधार में मोबाइल नंबर अपडेट करने की घोषणा की है ! अब आपको इसके लिए कोई प्रूफ या दस्तावेज जमा करने की जरूरत नहीं है ! नीचे दिए गए चरणों का पालन करें और दी गयी प्रक्रिया के साथ आवेदन पत्र भरें ! इसके बाद की जानकरी के लिए इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े !  

ऐसे करे आधार में मोबाइल नंबर अपडेट

अगर आपका आधार कार्ड से लिंक नंबर डिएक्टिवेट हो गया है या फिर वह नंबर बंद हो गया है ! तो आप UIDAI की वेबसाइट की मदद से अपने नंबर को अपडेट कर सकते हैं ! इसके लिए आपको पास के किसी आधार सेंटर में जाना होगा ! अपने आधार में फ़ोन नंबर बदलने के लिए नीचे दिए स्टेप फ़ॉलो करें !

  • इसके लिए सबसे पहले आप अपने नजदीकी के आधार इनरोलमेंट सेंटर में जाएं !
  • आधार इनरोलमेंट सेंटर जाने के बाद वहा से आधार अपडेट/करैक्शन फॉर्म का फॉर्म ले ! फॉर्म में पूछी गयी जानकरी सही-सही भरे, खासकर अपन मोबाइल नंबर !   
  • उसके बाद आधार कार्ड अधिकारी को अपना फॉर्म जमा कर दें। फिर आपके बायोमैट्रिक सत्यापन के साथ आपका नंबर अपडेट कर दिया जाएगा !
  • मोबाइल नंबर अपडेट करने के लिए आपको 50 रुपये फीस देनी होगी !
  • आपको आधार कार्ड सेंटर से पावती पर्ची दी जाएगी देगा ! उस पर्ची में आपका अपडेट रिक्वेस्ट नंबर (URN) है ! इस नंबर की मदद से आप अपने अपडेट की रिक्वेस्ट की जाँच कर सकते हैं ! और 90 दिनों के भीतर आपका मोबाइल नंबर अपडेट हो जाएगा !

2010 में बना पहला आधार कार्ड

जनवरी 2009 में भारत सरकार द्वारा भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) का गठन किया गया ! इसके बाद सितंबर 2010 से आधार कार्ड बनाने का कार्य शुरू हुआ ! आधार कार्ड बनाने की शुरुआत 29 सितंबर 2010 को पहला आधार कार्ड जारी करने के साथ हुई थी ! उसके बाद बड़े पैमाने पर भारत में लोगों का आधार कार्ड बनाये जाने की शुरुआत हुई !

आधार में आंखों की स्कैनिंग से लेकर हाथों की सभी अंगुलियों के फिंगर प्रिंट को कैप्चर किया जाता है ! सरकार के पास यूआईडीएआई के जरिए सभी का डाटा रखा गया है ! आज के समय में बच्चो का भी आधार कार्ड बनाये जाते है, इसे बाल आधार कार्ड कहा जाता है !

Read Also- UIDAI ने लॉन्च की AI बेस्ड सर्विस, अब आधार कार्ड बनवाने के लिए नहीं जाना पड़ेगा जन सेवा केंद्र, घर बैठे होगा सारा काम

Cardmantr का Whatsapp चैनल फॉलो करें

Kiran Yadav

Hey, My Name is Kiran. I'm the Owner of this Website. I'm in Banking Sector in Last 5 years . And I have 5 Years of experience in Loan, Finance, Insurance, Credit Card & LIC....

Leave a Comment