मोदी सरकार की इस योजना से बेटियों को मिलेगा 2 लाख रूपये, जल्दी करे अप्लाई

मोदी सरकार की इस योजना से बेटियों को मिलेगा 2 लाख रूपये– केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई सुकन्या समाधि योजना का उद्देश्य बेटियों को सुरक्षित रखना है। इस योजना के माध्यम से देश भर में बेटियों के लिए बचत को प्रोत्साहित किया जाता है।

साथ ही केंद्र सरकार इस योजना के माध्यम से बेटियों को आर्थिक सहायता देती है। केंद्र सरकार की सुकन्या समाधि योजना का उपयोग बेटियों के लिए धन प्राप्त करने के लिए किया जा सकता है।

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 2015 में इस योजना की शुरुआत की थी। इस योजना का उद्देश्य लड़कियों की सुरक्षा, शिक्षा और अन्य क्षेत्रों में लड़कियों की उच्च भागीदारी को बढ़ाना है।

ऐसी और जानकारी सबसे पहले पाने के लिए हमसे जुड़े
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

सरकार अपने नागरिकों में आत्मनिर्भरता और शक्ति को बढ़ावा देने के लिए कई तरह के कार्यक्रम शुरू करती है। केंद्र सरकार इन योजनाओं के अलावा महिलाओं और बेटियों को जागरूक करने और उन्हें मजबूत करने के लिए कई अन्य योजनाओं को भी लागू करती है।

सरकार की इन योजनाओं के माध्यम से देश की महिलाओं और बेटियों को भरपूर सम्मान देकर आगे बढ़ाया जा रहा है। सुकन्या समृद्धि योजना भी बेटियों के भविष्य के लिए केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं में से एक है।

PM Awas Yojana 2023 New List: आ गया हैं प्रधानमंत्री आवास योजना का नया लिस्ट, यहाँ से चेक करें अपना नाम

सुकन्या समृद्धि योजना बेटियों के लिए बचत को प्रोत्साहित करती है और सरकार द्वारा बेटियों को लाखों रुपये भी प्रदान किए जाते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए आवेदन केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही सुकन्या समृद्धि योजना का मुख्य उद्देश्य लड़कियों को आत्मनिर्भर बनाकर उन्हें मजबूत बनाना और शिक्षा, सुरक्षा व अन्य क्षेत्रों में उनकी भागीदारी बढ़ाना है।

बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान के हिस्से के रूप में, सुकन्या समृद्धि योजना बालिकाओं के भविष्य को सुनिश्चित करने के लिए शुरू की गई थी। इस योजना के तहत किए गए निवेश का उपयोग लड़कियों की शादी और शिक्षा में मदद के लिए किया जा सकता है।

बैंक और डाकघर दो ऐसी जगह हैं जहां SSY खाते खोले जा सकते हैं। जमा राशि पर ब्याज कमाने के अलावा इस खाते में लाखों रुपए भी जमा किए जा सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत किए गए निवेश भी आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80सी के तहत 1.5 लाख रुपये तक के कर लाभ के लिए पात्र हैं।

इस योजना के तहत निवेश पर ब्याज भी अर्जित किया जाता है। एक चक्रवृद्धि ब्याज दर सालाना लागू होती है। जब योजना परिपक्व हो जाती है या एनआरआई या गैर-नागरिक बन जाती है तो एक बालिका ब्याज की हकदार नहीं होती है।

प्रत्येक तिमाही में, सरकार ब्याज दर निर्धारित करती है। वित्त वर्ष 2022-23 की तीसरी तिमाही के लिए 7.6% ब्याज दिया जा रहा है।

आयुष्मान कार्ड धारकों को मिलने लगे पैसे, अगर आप भी है लिस्ट में शामिल तो जल्द उठाये योजना का लाभ

इस योजना के तहत एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम 250 रुपये का निवेश किया जाना चाहिए। न्यूनतम राशि जमा नहीं करने पर खाते को डिफाल्ट माना जाएगा। 50 रुपये का जुर्माना देकर खाते को वापस सक्रिय स्थिति में लाया जा सकता है।

इसके अलावा, यह खाता एक वर्ष में अधिकतम 1.5 लाख रुपये की जमा राशि स्वीकार कर सकता है। यदि लड़की की उम्र 10 वर्ष से कम है तो उसके माता-पिता या कानूनी अभिभावक उसके नाम से SSY खोल सकते हैं।

यह योजना लड़की के 21 या 18 वर्ष की आयु तक पहुंचने पर खाते को परिपक्व होने की अनुमति देती है। वहीं, एक बच्ची के नाम पर एक ही खाता खोला जा सकता है।

PM-Kisan Beneficiary Status: अगर आपके मोबाइल पर भी आया है वोटिंग फॉर अप्रूवल का मैसेज तो ये है उसका मतलब

Kiran Yadav

Hey, My Name is Kiran. I'm the Owner of this Website. I'm in Banking Sector in Last 5 years . And I have 5 Years of experience in Loan, Finance, Insurance, Credit Card & LIC....

Leave a Reply