सरकार देने जा रही है 20 लाख गरीबो को आशियाना, जल्दी करें इस तरह उठाये योजना का लाभ

सरकार देने जा रही है 20 लाख गरीबो को आशियाना– केंद्र की मोदी सरकार का लक्ष्य 2022 तक सभी को आवास उपलब्ध कराना है। इसी लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री आवास योजना की शुरुआत की गई थी।

पीएम आवास योजना के दो प्रकार हैं, जिनमें पीएम आवास योजना – ग्रामीण और पीएम आवास योजना – शहरी शामिल हैं। विभिन्न राज्य सरकारों ने भी पीएम आवास योजना के आधार पर अपने-अपने लक्ष्य निर्धारित किए हैं। इसमें उत्तर प्रदेश राज्य की सरकार भी शामिल है।

2022 में, यूपी सरकार ने 32.65 लाख कम आय वाले निवासियों के लिए आवास उपलब्ध कराने की उम्मीद की थी। राज्य की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, गरीबों के लिए 14.34 लाख घर उपलब्ध कराने में योगी सरकार को चार साल लग गए हैं। भविष्य में सरकार की ओर से 18 लाख और गरीब लोगों को घर मिलेगा।

Khabro

इस अक्टूबर सभी किसानो के खाते में आएगी 4-4 हजार रूपये की किश्त, जानिए क्या है सरकारी आदेश

कब तक गरीबों को मिलेगा आवास

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार अपने कार्यकाल के अंतिम वर्ष के दौरान 18 लाख गरीब लोगों को घर उपलब्ध कराने की योजना बना रही है। कार्यक्रम के पहले चार वर्षों में 14.34 लाख गरीब लोगों को घर मिले हैं।

अनुमान है कि इस साल के अंत तक 18 लाख से ज्यादा घर बन जाएंगे। आवास प्लस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा 7.32 लाख और मकान बनाए जा रहे हैं। जिन परिवारों का विवरण एसईसी सर्वे-2011 से छूट गया था, उन्हें भी आवास प्लस योजना में शामिल किया गया है, जो अच्छी बात है। लगभग 49.54 लाख परिवार इस श्रेणी में आते हैं।

अब खत्म हुआ इंतज़ार इस दिन किसानो को मिलेगी 12 वीं किश्त, सरकार ने किया ऐलान

ऐसे जानिए लाभ मिलेगा या नहीं

ग्रामीण लोग पीएम आवास योजना – ग्रामीण के लिए आवेदन कर सकते हैं यदि वे ग्रामीण क्षेत्रों में रहते हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के निवासी गूगल प्ले से मोबाइल एप डाउनलोड कर सकते हैं।

इस ऐप में अपने मोबाइल नंबर से लॉग इन करने के बाद आपको एक ओटीपी प्राप्त होगा। ओटीपी के साथ लॉग इन करने के बाद आवश्यक विवरण दर्ज करें। गौरतलब है कि आपके द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर सरकार तय करेगी कि आपको लाभ दिया जाए या नहीं। इसका लाभ लेने वाले लोगों के नाम वेबसाइट पर डाल दिए गए हैं।

क्या है योजना का उद्देश्य

प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण का मुख्य उद्देश्य महिला सशक्तिकरण है। इस योजना के तहत 67 प्रतिशत घर ऐसे हैं जो या तो महिला के नाम पर हैं या पति सहित पत्नी के नाम पर हैं।

सूची में नाम जांचें

इस योजना के तहत यदि आप अपना घर बनाना चाहते हैं तो आप सरकारी सहायता ले सकते हैं लेकिन ऐसा करने के लिए पैसे की कमी है। आपको उपरोक्त तरीके से आवेदन करने के बाद लाभार्थियों की सूची में अपना नाम अवश्य देखना चाहिए। इस कार्य को पूरा करने के लिए PMAY-G की वेबसाइट (https://pmaymis.gov.in/) पर जाएं।

सरकार की तरफ से आयी बड़ी खुशखबरी सभी किसानो के खाते में आने वाले वाले है 36000 रूपये, जल्दी रजिस्ट्रेशन कर उठाये pm मानधन योजना लाभ

आप यहां ‘लाभार्थी खोजें’ पर क्लिक करके लाभार्थियों को खोज सकते हैं। क्लिक करने के बाद आप एक नए पेज पर पहुंच जाएंगे। यहां आपको अपना नाम दर्ज करना होगा। आपके नाम के साथ सभी का नाम सामने आएगा क्योंकि आपके नाम के साथ अन्य लोग भी हो सकते हैं। उनमें आपको अपना नाम मिल जाएगा।

क्या लाभ होगा

PMAY-G के तहत 6 लाख रुपये के ऋण पर 6 प्रतिशत की ब्याज दर लागू की जा सकती है। इससे ज्यादा का कर्ज लेने पर आपको ज्यादा ब्याज देना होगा। इसके अलावा, इस योजना के तहत सरकारी सहायता उपलब्ध है, जिसमें राज्य और संघीय सरकारें प्रत्येक का योगदान 60 प्रतिशत है। पीएमवाई-जी के तहत प्रत्येक लाभार्थी को 1.20 लाख रुपये का 100 प्रतिशत अनुदान मिलता है।

Read Also-

Click to rate this post!
[Total: 1 Average: 5]
Kiran Yadav

Hey, My Name is Kiran. I'm the Owner of this Website. I'm in Banking Sector in Last 5 years . And I have 5 Years of experience in Loan, Finance, Insurance, Credit Card & LIC....

Leave a Reply